Archive


26
Apr

अल्ला मेहरबान तो गधा पहलवान

  बात तो एकदम सही है। गधों पे अल्ला मेहरबान रहता ही है। क्योंकि गधा...[ read more ]

25
Apr

निर्णय करो दिल से कामयाब हो जाओगे।

  मनुष्य के पास तीन निर्णायक शक्ति होती है। एक तो उसकी आत्मा होती है...[ read more ]

24
Apr

कोई आपको क्यों समझे? आप अपने को समझ, लो काफी है

  यह भी हमारी बड़ी विचित्र कामना है। भला कोई हमें समझे ही क्यों? क्या...[ read more ]

Archives

Random Quote

प्रकृति में कोई भी मनुष्य परफेक्ट नहीं होता है। हर व्यक्ति का अपना एक स्वभाव और अपना एक क्षेत्र होता है। हम जिन्हें भगवान कहते हैं वे भी जीवनभर विज्ञान के ज्ञान से अनजान ही थे।



In existence, no human being is perfect. Every person has his own unique nature and individual field of expertise. Even those, whom we know as gods were unaware of the knowledge of science all their life.

Most Read