×

Sorry, no results were found.

Archives

Random Quote

हमारे ‘‘मन’’ में उठनेवाली कोई भी तरंग ना तो दबायी जा सकती है, और ना मन में कोई तरंग पैदा ही की जा सकती है। …उनका सिर्फ रूपांतरण हो सकता है।



No vibration emanating from our “mind” can ever be suppressed nor can any vibration be created in mind… they can only be transformed.

Most Read