May 12, 2015 8:40 am

जीवन सिर्फ वर्तमान है। यहां बीता क्षण कभी लौट के नहीं आ सकता। वहीं आने वाला पल भी कभी कुछ कह के नहीं आता। ऐसे में भूत व भविष्य की सारी उड़ानें सिर्फ हमारे भय की द्योतक हैं, यथार्थ इसमें कुछ भी नहीं होता।

Q 279 Hindi