Archive


Categories

Random Quote

हमारे हर कर्मों का फल हमें हाथोंहाथ कर्म करते वक्त की मनोदशाओं के रूप में मिल ही रहा है। …वे धोखेबाज हैं जो कर्म के फलों के नाम पर धर्मों का जाल बिछाये चले जा रहे हैं।



The effects of all our actions are experienced instantaneously in the form of the state of mind they elicit… Those who are laying the web of religions in the name of doctrine of Karma are simply being deceitful.

Most Read