Archive


Categories

Random Quote

समय के सिर्फ एक स्वरूप यानी ‘वर्तमान’ से प्रकाशित इस जगत में कैसे एक पल से ज्यादा बटोरने की कोशिश में लगा कोई व्यक्ति कभी भी सफल हो सकता है?



How could a person who is busy trying to amass more than a moment, ever be successful in a world which is enlightened by just one facet of time i.e ‘present’?

Most Read