February 11, 2015 6:09 pm

जिसे आप अपना होना मान रहे हैं वह आपका होना नहीं है। …और जिसे आप अपनी मृत्यु मान रहे हैं, वह आपकी मृत्यु भी नहीं है। और वैसे ही जिसे आप अपना विश्व मान रहे हैं वह आपका विश्व भी नहीं है।

Q-21-(samay)-Hindi