Archive


27
Feb

मैं तो ठगा ही गया पर आप चेत सकते हो तो चेतो

  मैंने अभी-अभी शरीर छोड़ा है। पता नहीं मैं कहा पहुंच गया हूँ। पर जहां...[ read more ]

22
Feb

कहीं कृष्ण से भगवद्गीता कहते वक्त कोई चूक तो नहीं हुई है?

  वैसे तो कृष्ण सम्पूर्ण व्यक्तित्व के मालिक हैं। प्रेम, ज्ञान व ध्यान की तो...[ read more ]

Archives

Random Quote

कार्य प्रारंभ करने के बाद उसके ‘‘सफल-समापन’’ से पूर्व ही उस ओर से अपनी चेतना हटाना – असफलता को न्योता देने के समान है।



Once you have commenced the task, then moving your concentration and energies away, prior to its “successful completion” – is like inviting failure yourself.

Most Read