धर्म


30
Jan

कहते मुझे भगवान हो और समझते मूर्ख हो यह क्या बात हुई?

  मैं दुनिया का मालिक हूँ। आप जो-जो चीज अपनी बनाए बैठे हैं वे सारी-की-सारी...[ read more ]

Archives

Random Quote

अहंकार संतुलन बनाना जानता ही नहीं। वह या तो संसार में डूबा रहता है या फिर घबराकर संन्यास ले लेता है। …लेकिन संसार में रहकर मन से संन्यासी होना उसे आता ही नहीं…।



Ego simply doesn’t know how to strike a balance. Either it stays immersed in the worldly matters or getting distressed, takes ‘sanyas’ – renounce the world… But to lead a normal life while being mentally detached from the world is something that it just does not know.

Most Read